पुरवईया के झोकों के साथ बलिया में भी हुआ मानसून पूर्व बादलों का आगमन : डॉ0 गणेश पाठक, भूगोलविद्
बलिया। अमरनाथ मिश्र स्नातकोत्तर महाविद्यालय दूबेछपरा, बलिया के पूर्व प्राचार्य एवं भूगोलविद् डॉ0 गणेश पाठक ने एक भेंटवार्ता में बताया कि मानसून पूर्व बादलों एवं वर्षा का आगमन प्रायः मानसून आने से सात से नौ दिन पूर्व हो जाता है इस परिप्रेक्ष्य में यदि देखा जाय तो लगभग पाच दिनों पूर्व से मौसम में…
Image
अब यों ही बदलता रहेगा मौसम का मिजाज : डॉ0 गणेश पाठक, पर्यावरणविद्
अभी-अभी बलिया में भयंकर आँधी-तूफान। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के साथ तापमान में अचानक वृद्धि से स्थानीय/क्षेत्रीय चक्रवात की उत्पत्ति के कारण आँधी-तूफान की गति काफी तेज।अनुमानतः 30-50 किमी० की गति से वायु का प्रवाह। साथ ही साथ आसमान में पहले से मौजूद नमी के कारण बादलों का भी निर्माण। घनघोर भयंकर डर…
Image
कुहरे का बढ़ता प्रभाव : प्रकृति के साथ मानव भी है जिम्मेदार : डॉ० गणेश पाठक
बलिया। अमरनाथ मिश्र स्नातकोत्तर महाविद्यालय दूबेछपरा, बलिया के पूर्व प्राचार्य पर्यावरणविद् डॉ० गणेश कुमार पाठक ने परिवर्तन चक्र से एक भेंट वार्ता में कुहरा एवं उसके प्रभाव पर चर्चा करते हुए बताया कि वैसे तो कुहरा एक मौसमी प्राकृतिक परिघटना है, किंतु इसकी उत्पति एवं प्रभाव की अभिवृद्धि में मानव भी …
Image