अपर महाप्रबंधक, पूर्वोत्तर रेलवे श्री अमित कुमार अग्रवाल द्वारा माधोसिंह–ज्ञानपुररोड रेल खण्ड एवं स्टेशनों पर चल रहे कार्यों का निरीक्षण एवं विकास योजनाओं की समीक्षा






वाराणसी15 जनवरी, 2021 ;  अपर महाप्रबंधक,पूर्वोत्तर रेलवे श्री अमित कुमार अग्रवाल अपने दो दिवसीय निरीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत आज मंडुवाडीह-प्रयागराज रामबाग दोहरीकरण परियोजना के अंतर्गत माधोसिंह–ज्ञानपुररोड  रेल खण्ड एवं स्टेशनों पर चल रहे कार्यों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उनके साथ वरिष्ठ मंडल इंजीनियर तृतीय श्री अतुल त्रिपाठी, वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर/कर्षण श्री पंकज केशरवानी  एवं रेल विकास निगम लिमिटेड के चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर 1 श्री विकास चन्द्रा एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।


अपर महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने माधोसिंह-ज्ञानपुर रोड रेल खण्ड पर चल रहे दोहरीकरण कार्यों की प्रगति देखी। उन्होंने नये आई लैंड प्लेटफार्मों,नई रेलवे लाइनों, नये सिग्नलों, पॉइंट मशीनों, स्टेशन भवन, केंद्रीकृत वी.डी.यू. पैनल के संस्थापन को मानक के अनुरूप समय सीमा में पूरा करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने इस खण्ड पर नान-इन्टरलॉक कार्यों के दौरान इस खण्ड से गुजरने वाली महत्वपूर्ण गाड़ियों के समयपालन को सुनिश्चित करते हुए संरक्षित कार्यप्रणाली अपनाने का सम्बंधित को दिशा निर्देश दिया। उन्होंने ज्ञानपुर रोड स्टेशन पर स्टेशन ओवरलैप के लिए बने सैंडहम्पों को संरक्षा के मानकों के अनुरूप व्यवस्थित करने का निर्देश दिया। इस दौरान अपर महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने उक्त स्टेशनों पर यात्री सुख सुविधाओं, प्रवेश मार्ग एवं सर्कुलेटिंग एरिया का भी निरीक्षण किया और भविष्य में बढ़ने वाली यात्री संख्या के मद्देनजर व्यवस्थित एवं सुविधाजनक तरीके से विकसित करने का निर्देश दिया। 


निरीक्षण के उपरांत  अपर महाप्रबंधक श्री अमित कुमार अग्रवाल वाराणसी पहुँचे और मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के भारतेन्दु सभाकक्ष में मंडलीय अधिकारीयों के साथ वाराणसी मंडल पर चल रही विभिन्न विकास परियोजनाओं के विभिन्न चरणों एवं क्रियान्वयन पर विस्तृत परिचर्चा की। इस दौरान उन्होंने ब्लाक, काशन, प्री नान-इन्टरलॉक एवं नान-इन्टरलॉक कार्यों का समुचित प्रबंधन करने एवं कार्यों के दौरान भी गाड़ियों के समयपालन को ठीक रखने का निर्देश दिया। उन्होंने वाराणसी मंडल के विभिन्न विभागों को कॉन्ट्रैक्ट लेबर, ठेकेदार के लेबर,रेल विकास निगम लिमिटेड अथवा निर्माण संगठन द्वारा कराए जा रहे विभिन्न कार्यों में प्रयुक्त कैजुअल लेबरों का रजिस्ट्रेशन भारत सरकार द्वारा जारी श्रमिक कल्याण पोर्टल में सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि श्रमिकों के हितों की रक्षा करने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा यह स्कीम स्टार्ट की गयी है जिससे श्रमिकों को औसत मजदूरी, बीमा, भविष्य निधि एवं कार्यानुभव आदि का लाभ निश्चितता के साथ मिलता है। इस दौरान उन्होंने रेल विकास निगम लिमिटेड एवं निर्माण संगठन से सामंजस्य स्थापित कर नान-इंटरलॉक एवं ब्लाक समय को कम करने का प्रयास हेतु निर्देश दिया।  इस अवसर पर मंडल रेल प्रबंधक श्री विजय कुमार पंजियार, अपर मंडल रेल प्रबंधक इन्फ्रा श्री प्रवीण कुमार, अपर मंडल रेल प्रबंधक परिचालन श्री एस.पी.एस.यादव, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.एम.एस.नबियाल, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक श्री रोहित गुप्ता, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर (समन्वय) श्री राकेश रंजन, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री संजीव शर्मा,वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर ओ एण्ड एफ श्री अलोक केशरवानी, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर कैरेज&वैगन श्री एस.पी. श्रीवास्तव, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक सामान्य श्री ए.के.सक्सेना, वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर (सामान्य) श्री सत्येन्द्र यादव, वरिष्ठ मंडल वित्त प्रबंधक श्रीमती प्रीति वर्मा, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी श्री समीर पॉल एवं वरिष्ठ मंडलीय अधिकारी  उपस्थित थे।


इसके बाद अपर महाप्रबंधक श्री अग्रवाल ने वाराणसी पर स्थापित विक्रेता विकास केंद्र में ’’रिसर्चडिजाइन एण्ड स्टैण्डर्ड आर्गेनाइजेन (आर.डी.एस..), लखनऊ द्वारा अनुमोदित संरक्षा एवं अन्य महत्वपूर्ण क्रिटिकल सामानों के स्टालों का निरीक्षण किया। उन्होंने इस केन्द्र में प्रदर्शित सभी सामनों के आर.डी.एस.ओ. स्पेसिफिकेशन, वार्षिक आवश्यकता एवं उनकी दरों को देखा तथा इस केंद्र के माध्यम से नये उद्यमियों को इन सामानों के निर्माण एवं रेलवे को आपूर्ति करने के प्रयासों की सराहना की।


 

अशोक कुमार

जनसम्पर्क अधिकारी/वाराणसी। 




Comments