कोरोना पर सीएम योगी ने की उच्चस्तरीय बैठक, दिया निर्देश- काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग और सर्विलांस सिस्टम में न की जाए कोई ढिलाई

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के प्रसार को रोकने को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रसार पर लगातार नियंत्रण बनाये रखने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग और सर्विलांस सिस्टम में कोई ढिलाई न बरती जाए। यही वह कड़ी है, जिससे कोविड-19 के प्रसार को रोकने में मदद मिली है। मुख्यमंत्री योगी आज यहां अपने सरकारी आवास पर बुलाई एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने जनपद लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर व अयोध्या में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये। उन्होंने कोविड अस्पतालों में सीनियर फैकल्टी चिकित्सकों को राउण्ड लेने के निर्देश देते हुए कोविड अस्पतालों में हाई फ्लो नेजल कैन्युला (एच0एन0एफ0सी0) की व्यवस्था को सुदृढ़ के लिये भी कहा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिये सभी कदम प्रभावी ढंग से लागू किये जाएं। लोगों को जागरूक बनाने के लिये पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से इसकी रोकथाम तथा कोरोना प्रोटोकाॅल के सम्बन्ध में निरन्तर जानकारी दी जाए। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिये प्रेरित किया जाए। साथ ही, उन्हें मास्क पहनने और सेनिटाइजेशन के सम्बन्ध में भी निरन्तर जानकारी दी जाए।

अस्पतालों में इलाज की समुचित व्यवस्था को लेकर सीएम योगी ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखा जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि विशेषज्ञ डाॅक्टर कोविड वाॅर्ड में नियमित राउण्ड लें। अस्पतालों में दवाओं, मेडिकल उपकरणों तथा ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता रहे। यह सुनिश्चित किया जाए कि कोविड-19 की मेडिकल टेस्टिंग की प्रभावी व्यवस्था निरन्तर बनी रहे। इसके लिए प्रतिदिन पर्याप्त संख्या में आर0टी0पी0सी0आर0 तथा रैपिड एण्टीजन टेस्ट किये जाएं। उन्होंने इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेंटर को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश भी दिये। सरकार के प्रयासों से वर्तमान में प्रदेश में कोरोना से रिकवरी दर 94.6 प्रतिशत है।

इस समीक्षा बैठक में मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, औद्योगिक एवं अवस्थापना आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 तथा सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।


Comments