बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए महिलाओं को किया जागरूक : आनन्द स्वरूप शुक्ला

 





राष्ट्रीय पोषण  अभियान के अंतर्गत टाउन हॉल में हुआ ‘जन आन्दोलन’ कार्यक्रम

बलिया: प्रदेश सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूरे होने के उपलक्ष में राष्ट्रीय पोषण  अभियान के अंतर्गत ‘जन आन्दोलन’ कार्यक्रम बुधवार को टाउन हाल सभागार हुआ। मुख्य अतिथि संसदीय कार्य एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ला ने हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर राष्ट्रीय पोषण अभियान के तहत 16 मार्च से 31 मार्च तक यह अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में महिलाओं को राष्ट्रीय पोषण से सम्बन्धित एवं विभाग के विभिन्न योजनाओं की जानकारियां दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका के माध्यम से महिलाओं को जागरूक किया जाए, ताकि वे अपने बच्चों को कुपोषण से बचा सके। हर महिला को संतुलित आहार व पोषक तत्वों के बारे में मूलभूत जानकारी हो। राज्यमंत्री शुक्ल ने हरी सब्जियों के प्रयोग व हर किसी को अपने-अपने घर के सामने सैजन का पेड़ लगाने का भी आवाह्न किया। बताया कि इसमें अनेक प्रकार की विटामिन रहती है। बताया कि प्रदेश के 826 विकास खण्डों में 240 में पोषाहार उत्पाद की स्थापना हो रही है। शेष ब्लाकों में जहां उत्पाद नहीं हो पा रहा है, वहा पोषाहार स्वयं सहायता समूह के माध्यम से वितरण कराया जा रहा है। गांव में महिलाओं को बैंकिंग सुविधाओं में दिक्कत ना हो इसके लिए हर गांव में बीसी सखी का चयन हुआ है। जहां कोटेदार गडबड़ी करता है तो कोटे की दुकान को निरस्त कर स्वयं सहायता समूह को कोटे की दुकान चलाने को दी जा रही है। प्रदेश के 1482 कोटे की दुकान स्वयं सहायता समूह संचालित कर रही हैं। उन्होने कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में तमाम सराहनीय कार्य के साथ सरकार ने हर घर शौचालय सुनिश्चित कराया। सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया गया।

जन आंदोलन कार्यक्रम में सीडीओ प्रवीण वर्मा ने सभी आगनबाडी़ कार्यकत्रियों व मौजूद लोगों को धन्यवाद दिया। जिला कार्यक्रम अधिकारी डिप्टी कलेक्टर सीमा पाण्डेय, सीडीपीओ सुरेंद्र यादव समेत समस्त आईसीडीएस स्टाफ मौजूद थे।



Comments