बलिया : 17 विकास खण्डों में 21 मार्च से होगा किसान कल्याण मेला का आयोजन : प्रवीण वर्मा

सजीव प्रसारण को देखने के लिए कृषि विभाग द्वारा एलईडी स्क्रीन/टीवी की होगी व्यवस्था

बलिया। प्रदेश सरकार के 04 वर्ष पूर्ण होने पर सरकार द्वारा किये गये विभिन्न प्रयासों के बारे में आम जन को अवगत कराये जाने तथा मिशन किसान कल्याण के रूप में प्रत्येक विकास खण्ड में किसानों के हित में व उनकी आय में वृद्धि हेतु चलायी जा रही विभिन्न योजनाओं के कार्यक्रमों व किसान कल्याण मेलों का आयोजन किया गया है।

मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण वर्मा ने बताया कि जनपद के 17 विकास खण्डों में 21 मार्च को मिशन किसान कल्याण के रूप में मनाये जाने हेतु निर्देश दिये गये है। जिनमें किसान उत्पादक संगठनों व प्रगतिशील किसानों की सहभागिता करायी जायेगी। जनपद में कृषकों की आय बढ़ाने व उनके सतत कल्याण के लिए प्रत्येक विकास खण्ड के सभागार में पूर्वान्ह 10 बजे से विभिन्न योजनाओं के कार्यक्रमों व किसान कल्याण मेलों का आयोजन किया जाना है, तथा विकास खण्ड परिसर में कृषि विभाग के साथ-साथ उद्यान, पशुपालन, मत्स्य, सहकारिता, लघु सिंचाई, ग्राम्य विकास, पंचायती राज, इत्यादि विभाग अपनी-अपनी योजनाओं से संबंधित स्टाल लगायेंगे एवं लाभार्थी परक योजनाओं के स्वीकृति पत्र/प्रमाण पत्र/कृषि यंत्र वितरण/पुरस्कार आदि का वितरण भी सुनिश्चित करायेंगे। बैंको द्वारा कृषि, पशुपालन, मत्स्य पालन से जुड़े

कृषकों को किसान क्रेडिट कार्ड का स्वीकृति पत्र वितरित किया जायेगा। उक्त आयोजन का शुभारंभ राज्य स्तर पर कृषि प्रशिक्षण महाविद्यालय चरगावा गोरखपुर में पूर्वाह 10:30 बजे से माननीय मुख्यमंत्री जी के सम्बोधन से होगा। कार्यक्रम की व्यवस्था एवं माननीय मुख्यमंत्री जी के उदबोधन के सजीव प्रसारण को देखने हेतु गोष्ठी में एक एल.ई.डी. स्क्रीन/टी.वी. की व्यवस्था कृषि विभाग द्वारा कराया जायेगा।

प्रत्येक न्याय पंचायत/ग्रामों से समस्त अग्रणी कृषकों एवं 25-25 प्रगतिशील कृषकों करेंगे प्रतिभाग

उन्होंने कहा कि विकास खण्ड स्तर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में कृषि, सहकारिता, पशुपालन, उद्यान, दुग्ध विकास, गन्ना, ग्राम्य विकास/पंचायती राज विभाग, एवं मण्डी विभाग के विकास खण्ड स्तरीय अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहकर अपने-अपने विभाग की योजनाओं एवं उपलब्धियों की जानकारी प्रदान करेंगे। कार्यक्रम में विकास खण्ड स्तर पर गठित एफपीओ के प्रतिनिधि की सहभागिता भी करायी जायेगी। कार्यक्रम में कृषि, कृषि रक्षा, एवं भूमि संरक्षण के समस्त क्षेत्रीय कार्मिक एटीएम/बीटीएम/ मा0सहायुप-सी अपनी अपनी न्याय पंचायत/ ग्रामों से समस्त अग्रणी कृषकों एवं 25-25 प्रगतिशील कृषकों के साथ कार्यक्रम में प्रतिभाग करना सुनिश्चित करेंगे। कार्यक्रम के आयोजन में कोविड-19 कोरोना महामारी के सम्बन्ध में जारी दिशा-निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन हेतु सोशल डिस्टॅन्सिग, मास्क एवं सेनेटाईजेशन इत्यादि की व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी।




Comments