बिजली के भारी भरकम बिल को लेकर किसान ने कर ली आत्महत्या


उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में बिजली विभाग के अधिकारियों द्वारा कथित तौर पर थप्पड़ मारे जाने और बिजली का भारी भरकम बिल देने के बाद एक किसान ने आत्महत्या कर ली। पीड़ित के परिवार ने यह जानकारी दी।

यह घटना शनिवार को अतरौली तहसील के सुनहरा गांव में हुई, जब अधिकारियों ने किसान रामजी लाल (50) के घर पहुंचकर उन्हें 1,50,000 रुपये का बिजली बिल सौंप दिया। घटना के विरोध में ग्रामीणों ने रामजी लाल के शव को बिजली विभाग के स्‍थानीय कार्यालय के सामने रखकर एसडीओ और जूनियर इंजीनियर के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की। बाद में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को समझाकर स्थिति को काबू में किया और आवश्‍यक प्रक्रिया के बाद कार्रवाई का भरोसा दिया।

पीड़ित के परिवार का आरोप है, ‘‘अलीगढ़ के बरला थाना क्षेत्र के सुनहरा गांव में अधिकारी ने रामजी लाल को थप्‍पड़ मार दिया था, जिससे क्षुब्‍ध होकर किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।’’

किसान के भतीजे रामचरण और परिवार के अन्‍य सदस्‍यों ने पुलिस थाना बरला में दर्ज कराई गई शिकायत में आरोप लगाया है कि बिजली बिल के 1500 रुपये की राशि को गलत तरीके से एक लाख 50 हजार रुपये दिखाया गया था।

उन्होंने शिकायत में कहा है कि पिछले कई दिनों से रामजी लाल बिल में सुधार कराने के लिए भागदौड़ कर रहा था लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

इस बीच अतरौली के उप जिलाधिकारी पंकज कुमार ने रविवार को पत्रकारों को बताया कि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है और जो भी लोग दोषी पाये जायेंगे, उनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जाएगी और उनके खिलाफ मामला भी दर्ज किया जाएगा।




Comments