पंजाब सरकार का मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने से इनकार, कहा- सुप्रीम कोर्ट में दाखिल कर देंगे जवाब

यूपी में माफिया मुख़्तार अंसारी पर हो रही लगातार कार्रवाइयों के बीच यूपी लाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की नोटिस पर पंजाब सरकार के द्वारा की गई अवहेलना अब पंजाब सरकार को कठघरे में खड़ा कर चुकी है. पंजाब सरकार लगातार माफिया मुख़्तार अंसारी को बचाने में लगी है, जहां एक ओर यूपी पुलिस टीम मुख़्तार को रोपण जेल से यूपी लाने के लिए लगातार सक्रिय है, वहीं एक माफिया को शरण और राजनीतिक संरक्षण देने में पंजाब सरकार लगातार जुटी हुई है.

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में मुख़्तार मामले को लेकर सुनवाई होनी है. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की माफिया विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट में विचाराधीन मामले में पेश कराने की योजना पर पंजाब के रोपड़ जिले की पुलिस और रोपड़ जेल के अधीक्षक ने नोटिस लेने के बाद जवाब दाखिल करने की योजना बताकर गाजीपुर पुलिस को खाली हाथ भेज दिया.

पंजाब पुलिस ने तर्क दिया कि मुख्तार अंसारी की मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर उसे उत्तर प्रदेश नहीं भेजा जा सकता है. बीमारी के कारण बीएसपी से विधायक मुख्तार अंसारी का लम्बी यात्रा करना संभव नहीं है. बता दें कि गाजीपुर पुलिस की टीम सुप्रीम कोर्ट का नोटिस लेकर पंजाब के रोपड़ जेल पहुंची थी. यूपी पुलिस ने रोपड़ जेल अधीक्षक को नोटिस रिसीव कराया, जहां के जेल अधीक्षक ने कोर्ट में जवाब दायर करने को कहा है. मेडिकल रिपोर्ट का हवाला देकर पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपने से मना कर दिया. मुख्तार अंसारी को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले बांदा से पंजाब की रोपड़ जेल में शिफ्ट किया गया था. उसे पंजाब में दर्ज रंगदारी के एक मामूली मामले में रोपड़ जेल लाया गया था.

अलका राय ने प्रियंका गांधी और पंजाब सरकार पर बोला हमला इस घटनाक्रम के बाद गाज़ीपुर की मोहम्मदाबाद सीट से बीजेपी विधायक और दिवंगत कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय ने कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी व पंजाब की कांग्रेस सरकार पर एक बार फिर से मुख्तार अंसारी को बचाने का आरोप लगाया है. एक वीडियो जारी कर उन्होंने प्रियंका गांधी से गुहार भी लगाई है कि आप स्वयं एक महिला हैं, ऐसा कैसे कर सकती हैं? मुख्तार अंसारी खूंखार अपराधी है और यूपी में उसके ऊपर कई मुकदमे चल रहे हैं. उसे यूपी में भेजा जाए, ताकि न्याय मिल सके.

माफिया के रहनुमा आज छटपटा रहे हैं - योगी आदित्यनाथ वहीं माफियाओं के संरक्षण को लेकर आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फर्रुखाबाद में कहा कि उत्तर प्रदेश में भय,आतंक फैलाने वालों की कोई जगह नही है, ये वही प्रदेश है जहां 2017 से पहले गुंडों मफियाओं और अपराधियों का आतंक रहता था, लेकिन आज वही अपराधी, माफिया गले में तख्ती लटका कर माफी मांग रहे हैं, उन पर हो रही कार्रवाइयों को लेकर उनके रहनुमाओं को अब परेशानी हो रही है. उन्हें बुरा लग रहा है, उनमें छटपटाहट हो रही है, क्योंकि उनके गुर्गों पर शासन का बुलडोज़र चल रहा है.

मुख्यमंत्री के इस संदेश से अब साफ़ हो गया है कि पंजाब सरकार चाहे कितना भी कोशिश कर ले, लेकिन माफिया मुख़्तार को अब ज्यादा दिन संरक्षित नहीं रख पाएगी, क्योंकि अब सुप्रीम कोर्ट में इस मामले को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार भी हर तरीके से तैयार है.



Comments