भारत बंद के दौरान अगर यूपी में जबरन बंद करवाई दुकानें तो खैर नही, सरकार ने दिए हैं ये आदेश

केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि कानूनों को लेकर पिछले काफी दिनों से विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है. एक के बाद एक विपक्षी दल किसानों को समर्थन दे रहे हैं. वहीं दूसरी ओर केंद्र सरकार विपक्षी दलों से कह रही है कि वो इस मामले में किसानों को न भड़काए ये बिल किसानों के फायदे के लिए ही लाये गए हैं. किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद करने का ऐलान किया है.

जानकारी के लिए बता दें किसानों के भारत बंद के ऐलान को तमाम विपक्षी दल समर्थन दे रहे हैं. वहीँ इसी बीच यूपी से बड़ी खबर आ रही है. भारत बंद के ऐलान के बीच यूपी पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है और ये बात साफ़ कर दी है कि अगर यूपी में कहीं भी जबरन बाजार बंद करवाया गया तो जेल हो सकती है. यूपी के डीजीपी ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि अगर किसी ने जबरन दुकानें बंद करवाई तो उनके खिलाफ क़ानूनी कार्रवाई होगी.

सीएम योगी के आदेश के बाद डीजीपी ने हर जिले के पुलिस अधिकारियों को पत्र लिखकर अलर्ट पर रहने के आदेश जारी कर दिए हैं. अब अगर यूपी में भारत बंद के चलते जबरन दुकानें बंद करवाने का किसी ने प्रयास भी किया तो उसे ये काम करना काफी महंगा पड़ सकता है.

गौरतलब है कि यूपी के डीजीपी ने सभी जिलों के अधिकारियों को पत्र लिखते हुए कहा है कि किसानों का धरना प्रदर्शन को देखते हुए जगह जगह किसान और उनसे जुड़े हुए लोगों के एकत्रित होने की सम्भावना है. इतना ही नही किसानों को रोके जाने पर पुलिस और उनके बीच झड़प होने की भी संभावना है जिसके लिए पहले से ही अलर्ट किया गया है. वहीँ सोशल मीडिया पर प्रशासन की पैनी नजर रहेगी. अगर किसी ने भी अ’राजकता फ़ैलाने का काम किया तो सरकार सख्ती के साथ उससे निपटेगी. साथ ही लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल और धारा 144 का पालन करना होगा नही तो बड़ी कार्रवाई हो सकती है.




Comments