हाईकोर्ट की महिला जज की कोरोना से मौत, एक वर्ष बाद होने वाली थी रिटायर

भोपाल : मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर पीठ की न्यायमूर्ति वंदना कसरेकर की कोरोना संक्रमण के चलते रविवार को निधन हो गया। उन्होंने 60 वर्ष की आयु में अंतिम सांसे ली। न्यायमूर्ति वंदना कसरेकर लम्बे समय से बीमार थे। उनका इलाज दिल्ली के मेदांता अस्पताल में चल रहा था।

बता दें कि न्यायमूर्ति कसेरकर का जन्म 10 जुलाई 1960 को हुआ था। वह 25 अक्तूबर 2014 को मप्र उच्च न्यायालय की इंदौर खंडपीठ की न्यायाधीश नियुक्त हुई थीं।

न्यायमूर्ति कसरेकर के निधन पर राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट किया, “इंदौर उच्च न्यायालय में पदस्थ माननीय न्यायमूर्ति वंदना कसरेकर के निधन का दुःखद समाचार मिला है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वह दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और उनके परिजनों को इस वज्रपात को सहने की क्षमता दें। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं।


Comments