यह टिचर अपने कपड़े उतार कर बच्चों को पढ़ाती है बायोलॉजी, जानिए क्यों

नई दिल्ली। धीरे-धीरे जमाना हाईटेक जाता जा रहा है। इसके साथ ही सभी चीजें बदल रही है। काम से लेकर पढ़ाई तक बहुत कुछ बदल गया है। आजकल स्कूल में बच्चों को पढ़ाने के लिए नए नए टेक्निकल उपकरणों का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन एक महिला टीचर ऐसी है जो अपने बच्चों को पढ़ाने के लिए अनूठा तरीका निकला है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह टिचर अपने कपड़े उतार उतार कर बच्चों को शिक्षा देती है। सोशल मीडिया पर इस महिला बहुत सारी फोटो सामने आई है।

कपडे उतारकर पढ़ाती है बायोलॉजी हम बात कर रहे है नीदरलैंड की रहनेवाली एक जीव विज्ञान की शिक्षिका की। इस टिचर ने अपनी कक्षाओं के बच्चों को दिलचस्पी बढाने के लिए एक अनोखा तरीका खोज निकाला है। डेब्री हेरकेंस नाम की यह शिक्षिका जीरो हार्ट रिजनॉवेड स्कूल में जीव विज्ञान की शिक्षक है। वह अपनी कक्षा के बच्चों को कपडे उतारकर बायोलॉजी पढ़ाती है। यह पढ़कर आप शायद चौंक गए होंगे। 

ताकि बच्चे अच्छे से समझ सके टिचर की इसके पीछे की वजह जानकर आप इसकी की तारीफ किए बिना नहीं रह सकेंगे। वह ऐसा इसलिए करती है ताकि बच्चे अच्छी तरह से समझ सके। वे अपनी टेबल पर खड़ी जाती है और फिर अपने कपडे उतरती है। उन कपड़ों के अंदर वो एक ऐसी ड्रेस पहने होती है, जिसमे शरीर से जुडी हुई संरचना और हड्डियों अदि के चित्र छापे होते है।

पहली बार में बच्चे भी चौंक गए उस ड्रेस को उतारकर एक और ड्रेस वो पहने हुए नजर आती है। जिसमे बाकि चित्र बने होते है। हैरकेंस का कहना है कि जब उन्होंने पहली बार अपने कपडे उतरना शुरू किया, तब बच्चे एक दम चौंक गए। बच्चों को लगा कि वह सच में अपने कपड़े उतर रही है। उन्होंने कहा इस तरह से पढाने से बच्चों को शरीर के अंगों के बारे में दिखाकर अच्छे से समझाया जा सकता है।




Comments