मा0 उपमुख्यमंत्री ने आगरा जनपदको रू0 4550.22 लाख की परियोजनाओं की दी सौगात

 

आगरा का विकास केंद्र सरकार एवं प्रदेश सरकार की प्राथमिकता में शामिल।

जनप्रतिनिधियों द्वारा दिये गये विकास कार्य के प्रस्ताव को प्राथमिकता के आधार पर मंजूरी देने का कार्य किया जायेगा।

टॉप-20 में स्थान प्राप्त करने वाले बच्चों के घर तक सड़क डा0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम गौरव पथ के नाम से बनाने का कार्य किया जा रहा है।

शहीद वीर सैनिकों के सम्मान में उनके घर तक जय हिन्द वीरपथ के नाम से सड़क बनाने का कार्य किया जा रहा है।

राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतने वाले खिलाड़ियों के सम्मान पर उनके घर तक सड़क बनाने का कार्य किया गया।

पर्यावरण संतुलन एवं संरक्षण की दृष्टि से हर्बल वाटिका या हर्बल मार्ग बनाया जा रहा है।

विकास के मुद्दे पर न तो पीछे थे, न तो पीछे हैं और न ही पीछे रहेंगे।

गरीब के कल्याण को लेकर के न पीछे थे, न पीछे हैं और न पीछे रहेंगे

किसानों के उत्थान को लेकर के न पीछे थे, न पीछे हैं और न पीछे रहेंगे : केशव प्रसाद  मौर्य


लखनऊः 9 दिसंबर 2020। उत्तर प्रदेश के मा0 उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने आज सर्किट हाउस पर आयोजित शिलान्यास एवं लोकार्पण कार्यक्रम में कुल 50 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया,  जिसकी लागत धनराशि रू0 4550.22 लाख है। इस अवसर पर मा0 राज्यमंत्री डा0 जी0एस0 धर्मेश, मा0 सांसद प्रो0 एस0पी0 सिंह बघेल, मा0 विधायकगण श्रीमती हेमलता दिवाकर, श्री रामप्रताप चौहान, श्री योगेन्द्र उपाध्याय एवं श्री पुरूषोत्तम खण्डेलवाल एवं महापौर श्री नवीन जैन उपस्थित थे।


कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा लोकसभा के अन्तर्गत आने वाली 05 विधानसभाओं में सरकार के गठन से अब तक लगभग रू0 386 करोड़ (लगभग 04 अरब) की लागत की विभिन्न सड़कों का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि उन्हें मा0 जनप्रतिनिधियों द्वारा जो प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं, आगामी दिनों में इसी प्रकार के लोकार्पण एवं  शिलान्यास की बड़ी श्रृखला को देखने का अवसर पायेंगे। आगरा विश्व पर्यटन का एक महत्वपूर्ण केन्द्र है। आगरा का विकास केंद्र सरकार की एवं प्रदेश सरकार की दोनों सरकारों की प्राथमिकता में है। अभी पिछले दिनों मा0 प्रधानमंत्री जी द्वारा एवं मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा बहुत दिनों से जिसकी प्रतीक्षा थी, आगरा को मेट्रो का सौगात देने का कार्य किये हैं तथा आगे आने वाले समय में आगरा के लोगों को मेट्रो के माध्यम से तीव्र गति से विकास कार्य का अवसर देखने को मिलेगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा उनके क्षेत्र की जनता को उच्च स्तरीय आवागमन की सुविधा हेतु सड़क निर्माण का जो भी प्रस्ताव उन्हें मिलता है, उसे प्राथमिकता के आधार पर मंजूरी देने का कार्य किया जायेगा। उन्होंने कहा कि यू0पी0 बोर्ड की हाईस्कूल एवं इण्टर की परीक्षाओं में जिन प्रतिभाशाली बच्चों का स्थान टॉप-20 में आता है, उनके घर तक की सड़क डा0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम गौरव पथ के नाम से बनाने का कार्य किया जाता है। जिसमें प्रतिभाशाली बच्चे की फोटो, नाम व घर तक सड़क बनाने का कार्य किया जाता है। जनपद आगरा में भी ऐसी कई सड़कें बन चुकी हैं। 

उन्होंने कहा कि 2020 की यू0पी0 बोर्ड की परीक्षा में जिन बच्चों ने टॉप-20 में स्थान प्राप्त किया था, ऐसी 03 सड़कें जनपद आगरा की 05 विधान सभाओं में बन रही हैं। इसी प्रकार से देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए उ0प्र0 के जो भी वीर सैनिक शहीद होते है, उनके सम्मान में उनके घर तक सड़क जय हिन्द वीर पथ के नाम से बनाने का कार्य कर रहें हैं। उसमें आगरा लोकसभा क्षेत्र के अन्तर्गत दो वीर सैनिक जो शहीद हुए थे, उनके घर तक सड़क के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। 

उन्होंने कहा कि हमारे देश के बहादुर सैनिक, चाहे वे पाकिस्तान की सीमा पर तैनात हों या चीन की सीमा पर तैनात हों, भारत के वीर जवानों ने जो पराक्रम दिखाया कि जो चोटिया 1962 में चीन ने हमसे छीनी थी, उनमें से कई चोटियों पर आज तिरंगा लहरा रहा है।  देश के लिये शहीद हुए वीर सैनिकों के परिवारों को लोक निर्माण विभाग के चतुर्थ श्रेणी से लेकर के उच्च अधिकारी तक ने अपना एक दिन का वेतन देने का कार्य किया है।  

उन्होंने कहा कि एक ऐसी व्यवस्था भी की गई है, जिसके अन्तर्गत उ0प्र0 के शहीद होने वाले सैनिक के परिजनों को रू0 22-22 लाख देने का कार्य किया  गया है। जिसमें रू0 11 लाख पत्नी को एवं 11 लाख रुपये माता-पिता को दिया गया है। शहीद सैनिक को उसके गाँव, शहर, जनपद, प्रदेश व देश के लोग याद रखें, उसकी स्मृति की याद दिलाने के लिए बलिदानी वीर सैनिक का चित्र लगाने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये गये हैं। 

उन्होंने कहा कि इसी प्रकार ऐसे खिलाड़ी जो प्रदेश के लिये राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय खेलों में देश के लिए पदक जीतकर लाने वाले खिलाड़ियों के सम्मान में मेजर ध्यानचन्द की जयंती पर यह तय किया गया कि उनके घर तक की सड़क को विजयपथ के नाम से बनाने का कार्य करेंगे। जिसमें जनपद आगरा के 03 खिलाड़ी शामिल हैं, उनके घर तक सड़क बनाने की प्रक्रिया पूरी हो गई है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों का सम्मान करना, उनका सम्मान नहीं है, बल्कि हमारे देश, प्रदेश एवं जिले का सम्मान है, इसलिए ऐसे लोगों के सम्मान में किसी भी प्रकार की कोई कमी न रह जाय।

उपमुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना के अन्त का समय आ गया है, वैक्सीन का निर्माण का कार्य लगभग पूरा हो गया है।  उन्होंने कहा कि पर्यावरण के संतुलन एवं संरक्षण की दृष्टि से लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि लोक निर्माण विभाग की जो भी भूमि खाली हैं, उस पर वृक्षारोपण किया जाय, जिसमें औषधि वृक्षों को भी लगाने का काम प्राथमिकता पर किया जाय, जिसे हर्बल वाटिका या हर्बल मार्ग के नाम से जाना जाता है। जनपद आगरा के सभी खण्डों में एक मार्ग ऐसा बनाया जा रहा है, जिसमें हर्बल मार्ग होगा, जिससे हमारी वर्तमान एवं आने वाली पीढ़ी के लिए अनुकूल पर्यावरण की अनुकूलता प्राप्त हो सकें। उन्होंने कहा कि जब तक वैक्सीन नहीं आ रही है, तब तक कोरोना के प्रति हमें सावधानी रखनी है।

उपमुख्यमंत्री जी ने कहा कि हम विकास के मुद्दे पर न तो पीछे थे, न तो पीछे हैं और न ही पीछे रहेंगे। गरीब के कल्याण को लेकर के न पीछे थे, न पीछे हैं और न पीछे रहेंगे तथा किसानों के उत्थान को लेकर के न पीछे थे, न पीछे हैं और न पीछे रहेंगे। उन्होंने कहा कि विकास उनकी सरकार का संकल्प है तथा विकास के मुद्दों पर न पीछे हटा गया है और न पीछे हटा जायेगा। आज उ0प्र0 में अपराधियों में खौफ है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का  उ0प्र0 में निवेश, रोजगार में बृद्धि एवं अच्छी सड़कों का लक्ष्य है। 

बी एल यादव

सूचना अधिकारी



Comments