यूपी : बेटी से छेड़छाड़ का पिता ने किया विरोध, बदमाशों ने पिता को गोलियों से भूना


उत्तर प्रदेश के हाथरस में बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत करना एक पिता को महंगा पड़ गया। जिले के नौजरपुर गांव में एक युवक ने अपने साथियों के साथ मिलकर 52 वर्षीय किसान को गोलियां से भून डाला। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा है। मृतक की पुत्री ने इस मामले में 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया है। पुलिस ने तुरंत कार्यवाही करते हुए एक नामजद हत्यारोपी ललित शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है।

मृतक किसान अमरीष शर्मा ने 16 जुलाई 2018 को आरोपी गौरव के खिलाफ घर में घुसकर छेड़खानी करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आरोपी 15 दिन जेल में रहा था, तब से वह रंजिश मानता चला आ रहा है। गौरव मामले में फैसला करने का दबाव बना रहा था। सोमवार दोपहर करीब 4 बजे अमरीष अपने खेतों पर आलू की खुदाई करा रहे थे। उसी दौरान उनकी पत्नी और पुत्री प्रियंका शर्मा खाना देने के लिए खेतों पर आ गईं। इसी दौरान आरोपी अपने दो साथियों के साथ एक सफेद रंग की गाड़ी में आए और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

फायरिंग के दौरान एक आरोपी को भी गोली लग गई जिससे वह गभीर रूप से घायल हो गया। बदमाश घायल आरोपी को गाड़ी में डालकर वहां से भाग निकले। घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। खेत पर काम कर रहे मजदूर जान बचाकर भागने लगे। सूचना पाकर ग्रामीणों की भीड़ मौके पर एकत्रित हो गई। आनन-फानन में परिजन अमरीष को जिला अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

घटना की रिपोर्ट मृतक की पुत्री ने थाने में दर्ज कराई जिसमें गौरव, रोहतास शर्मा, निखिल शर्मा, ललित शर्मा व दो अन्य को नामजद किया गया है। पुलिस ने इस मामले में तुरंत कार्यवाई करते हुए एक नामजद हत्यारोपी ललित शर्मा पुत्र सन्तोष शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा पुलिस बाकी अन्य आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

आरोपियों पर एनएसए के तहत होगी कार्यवाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले पर संज्ञान लिया। इसके बाद सीएम ने अधिकारियों को मामले में सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने मामले में शामिल सभी आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) के तहत कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए हैं।

साभार- हिन्दूस्तान




Comments