नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद ने लिखा राज्यपाल को पत्र


बलिया। जन नायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के वर्तमान स्थान से दूसरे जगह स्थानांतरित करने संबंधी चर्चा शुरू होते ही उसे रोकने के लिए पूरी तरह समाजवादी पार्टी जिले से लेकर प्रदेश के राजधानी लखनऊ तक  सक्रिय हो गई है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता रामगोविन्द चौधरी ने कुलाधिपति/महामहिम राज्यपाल को इस आशय का पत्र लिख कर विश्वविद्यालय को शहीद स्मारक स्थल से स्थानांतरित न करने का आग्रह किया है।

नेता प्रतिपक्ष ने पत्र में कहा है कि शहीद स्मारक स्थल को सजाने और सवारने में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर जी ने अपना खून और पसीना एक किया था उस स्थान से उन्हें बेहद लगाव था इसी को ध्यान में रख कर उनके नाम पर बने विश्वविद्यालय के लिए शहीद स्मारक को ही चुना गया। साथ ही वह स्थान जिला मुख्यालय से भी नजदीक है जिससे छात्र/छात्राओं को भी वहाँ जाने में सुबिधा रहेगी। पत्र में काह गया कि पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर जी द्वारा स्थापित एवं विकसित स्थान जनपद के लोगो के लिए किसी पवित्र स्थान के समान है उससे छेड़-छाड़ बलिया के लोग बर्दास्त नही करेंगे। इस लिए विश्वविद्यालय को वर्तमान स्थान (शाहिद स्मारक स्थल) पर ही पूर्ण विकसित किया जाए।

नेता प्रतिपक्ष द्वारा लिखे पत्र को मीडिया को जारी करते हुए जिला सपा प्रवक्ता सुशील पाण्डेय "कान्हजी" ने नेता प्रतिपक्ष के प्रति आभार ब्यक्त करते हुए कहा कि पूर्व प्रधान मंत्री स्व. चंद्रशेखर जी समाजवाद के पुरोधा एव  नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी के राजनीतिक गुरु थे अपने गुरु के नाम के प्रति जुड़ाव एव समर्पण ही रामगोविन्द चौधरी को अन्य राजनेताओं में एक अलग पहचान दिलाती है।



        

Comments