मण्डल रेल प्रबंधक डॉ0 मोनिका अग्निहोत्री की अध्यक्षता में हुई ’पी0आर0ई0एम0’ की बैठक

लखनऊ 24 मार्च 2021। पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मण्डल की मण्डल रेल प्रबंधक डा0 मोनिका अग्निहोत्री की अध्यक्षता में आज ’वर्चुअल कांफ्रेसिंग’ के माध्यम से ’पी0आर0ई0एम0’ PREM (Participation of Railway Employees in Management) की बैठक का आयोजन किया गया।

       कार्यक्रम के आरम्भ में वरिष्ठ मण्डल कार्मिक अधिकारी श्री मनोज कुमार ने ’वर्चुअल’ बैठक में शामिल प्रथम श्रेणी अधिकारी एसोसियेशन के अध्यक्ष एवं अपर मण्डल रेल प्रबन्धक (प्रशासन) श्री राघवेन्द्र कुमार, प्रमोटी आफीसर्स एसोसियेशन अध्यक्ष श्री कार्तिकेय सिंह, एन.ई.रेलवे मजदूर यूनियन के श्री संजीव कुमार श्रीवास्तव, श्री अतीकुर्रहमान, श्री अनिल भारती तथा एस.सी. एस.टी. एसोसिएशन के मण्डल मंत्री श्री राम प्रकाश तथा अखिल भारतीय ओ.बी.सी फेडरेशन के उपाध्यक्ष व मण्डल के ओ.बी.सी. एसोसिएशन के मण्डल मंत्री श्री एस.वी.यादव एवं अन्य पदाधिकारियों का स्वागत किया।

        मण्डल रेल प्रबन्धक डा0 अग्निहोत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि रेलवे को कोविड-19 से होने वाले अप्रत्याशित प्रभावों का सामना करना पड़ा। इस विषम काल में हमारे स्वास्थ्य कर्मियों, रेल कर्मियों ने विशिष्ट योगदान देकर इस विभीषिका का डटकर मुकाबला किया है। वर्तमान समय में कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण प्रारम्भ हो चुका है, हम सभी को प्रबल विश्वास है कि शीध्र ही हमें इस वैश्विक महामारी से मुक्ति मिलेगी। सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रयास से कर्मचारी परिवादों की संख्या शून्य स्तर पर आ गयी है। मण्डल द्वारा परिवादों का निपटान 09 मिनट में किया जा रहा है। रेल मदद पोर्टल पर आकड़ों के आधार पर पूर्वोत्तर रेलवे पूरे भारतीय रेल में यात्रियों के परिवादों के निस्तारण में प्रथम स्थान पा सका, जिसमें लखनऊ मण्डल, पूर्वोत्तर रेलवे का योगदान लगभग 60 प्रतिशत था। पिछले विगत कई महीनों में यात्रियों द्वारा दी गयी रेटिंग उच्च स्तर की रही है।

        रेल यात्रियों को विश्व स्तरीय सुविधायें प्रदान कराने में पूर्वोत्तर रेलवे निरन्तर प्रयासरत है। जिसमें रेल संरक्षा, स्पेशल गाड़ियों का संचलन, ऊर्जा संरक्षण, विद्युतीकरण, कर्मचारियों एवं उनके परिवारजनों के स्वास्थ्य के निरन्तर संरक्षण तथा यात्री सुविधाओं को उत्तम बनाने हेतु विशेष प्रयास किये जा रहे है। लाकडाउन के दौरान देश भर में आवश्यक सामग्रियों को पहुॅचाने हेतु माल गाड़ियों का संचालन कर एवं उनकी गति बढ़ाकर माल आपूर्ति सुनिश्चित की गयी है। विभिन्न व्यापार समूहों एवं उद्योगों से सम्बंधित संस्थाओं एवं व्यक्तियों के साथ नियमित समन्वय बनाये रखने तथा उन्हें माल लदान हेतु रेलवे प्रशासन द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में अवगत कराने के लिये लगातार प्रयास किये जा रहे है। सभी विभागों के बीच नियमित पत्राचार लिए डिजिटल रूप से कार्य किया जा रहा है। इसके लिए वेतन, छुट्टी के आवेदन, पदोन्नति, सेवानिवृत्ति आदि अन्य कार्य हेतु एक डिजिटल ई-कियोस्क बनाया है ताकि डिजिटल रूप से जुड़े मण्डल के सभी विभाग द्वारा ई-ऑफिस के माध्यम से कम से कम समय में फाइलों के आदान प्रदान करने के साथ साथ कम समय में कार्य का निस्तारण किया जा सकें। मण्डल में शून्य दुर्घटना का लक्ष्य प्राप्त करने हेतु नियमों एवं मानकों का पालन करने में कर्मचारियों का विशेष सहयोग प्राप्त हुआ है।

        उन्होंने यूनियन/एसोसिएशन के पदाधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि सकारात्मक गतिविधियों एवं रेल कर्मचारियों व उनके परिवारीजनों के व्यक्तित्व के विकास के लिए चलाई जा रहीं विभिन्न कार्य योजनाओं में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करें।

        इस अवसर पर यूनियन एवं एसोसिएसन के प्रतिनिधियों द्वारा बैठक में ट्रेनों के समय पालन, अनािधकृत रेलवे आवास का विवरण, यात्री आय, बजट एवं खर्चे, रनिंग रूम की सुविधाऐं, एचआरएमएस को प्रभावी बनाने पर ज़ोर, बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट, ई-कियोस्क के प्रयोग, कोविड-19 में रेल विकास, आदि एजेण्डा के बिन्दुओं पर सार्थक चर्चा की गयी।

        यूनियन एवं एसोसिएसन के प्रतिनिधियों द्वारा कर्मचारियों के कार्यकुशलता में उन्नति करने में सहायक उनकी आवासीय परिस्थिति कार्य स्थान पर बेहतर सुविधाओं एवं अच्छे स्वास्थ्य के समस्त कारकों पर अपने सुझाव प्रस्तुत कियें एवं यूनियन की ओर से प्रशासन को सहयोग देने का आश्वासन दिया।

         कार्यक्रम के अन्त में वरिष्ठ मण्डल कार्मिक अधिकारी श्री मनोज कुमार ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि ’पी0आर0ई0एम0’ की बैठक में सार्थक चर्चा हुई। उन्होने मण्डल रेल प्रबन्धक महोदया का आभार व्यक्त किया कि उन्होने हम सभी का समुचित मार्गदर्शन किया।

         इस अवसर पर अपर मण्डल रेल प्रबन्धक (परिचालन) श्री शिशिर सोमवंशी, अपर मण्डल रेल प्रबन्धक (इंफ्रा) संजय यादव, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 संजय श्रीवास्तव एवं समस्त शाखा अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।



Comments