खेलते-खेलते हौद में गिरी मासूम, बचाने के लिए कूदी मां, दोनों की मौत

जयपुर। नागौर के पादूकलां थानाक्षेत्र के ग्राम नथावड़ा में मंगलवार को एक घर में बने हौद में गिरी बच्ची को बचाने के लिए कूदी मां की भी डूबने से मौत हो गई।

थानाधिकारी सुखराम चोटिया ने बताया कि पिंकी (22) पत्नी राजवीर कस्वा निवासी पालियास अपने पीहर नथावड़ा के मकान में घर का काम कर रही थी। इसी दरम्यान उसकी डेढ़ वर्षीय पुत्री त्रियांशी घर में खेल रही थी। खेलते - खेलते बच्ची घर में बने पानी के हौद में गिर गई। उसे बचाने के लिए पिंकी भी हौद में कूद गई। घटना के वक्त सभी परिजन बाहर गए हुए थे। हादसे में डूबने से बच्ची व उसकी मां की मौत हो गई।

पुलिस के अनुसार मृतका के पिता नथावड़ा निवासी धर्माराम टाडा ने रिपोर्ट देकर बताया कि मृतका के ससुर की तबीयत थी खराब। उनके हालचाल पूछने वे लोग पिंकी के ससुराल गए हुए थे। घटना के वक्त घर में कोई नहीं था। वे आज ही पिंक को वापस ससुराल भेजने वाले थे।

घर में मचा कोहराम

हादसे के बाद दोपहर में मृतक के माता-पिता पालियास ग्राम से वापस नथावड़ा लौटकर अपने घर पहुंचे और हौद में तैरती अपनी दोहिती त्रियांशी व पुत्री पिंकी को देखा तो घटना का पता चला। हादसे की खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गई। मां - बेटी की मौत की खबर सुनकर हर कोई स्तब्ध रह गया।

मेडिकल बोर्ड से कराया पोस्टमार्टम

सूचना मिलने पर पादूकलां थानाधिकारी मय जाब्ता मौके पहुंचे। ग्रामीणों व परिजनों की सहायता से दोनों के शव पादूकलां स्थित राजकीय अस्पताल पहुंचाए। डेगाना उपखण्ड अधिकारी मुकेश चौधरी की मौजूदगी में मेडिकल बोर्ड का गठन कर शवों का पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव परिजनों के सुपुर्द किए।



Comments