अब गाड़ियों की आरसी भी बनेगी स्मार्ट, सिर्फ 200 रुपये करने होंगे खर्च, जानें पूरी डीटेल


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में फिटनेस पोर्टल के ट्रायल के बाद परिवहन विभाग अब आरसी को स्मार्ट लुक देने की तैयारी कर रहा है। डीएल और पैन कार्ड की तरह अब आरसी भी बनेगी। इसे लेकर परिवहन विभाग ने कवायद शुरू कर दी है। वित्त नियंत्रक की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की गई है, जो यह तय करेगी कि आरसी में चिप लगाई जाएगी या फिर इसे लैमिनेटेड कार्ड के रूप में तैयार किया जाएगा। स्मार्ट आरसी की कीमत करीब 200 रुपये होने की संभावना है।

जल्द शुरू होगा काम

नई आरसी में पहले की तरह पूरी एक पेज वाला लंबा-चौड़ा पंजीयन प्रमाणपत्र नहीं, बल्कि पॉकेट पर्स में रखा जाने वाला कार्ड का रूप दिया जाएगा। इसके लिए दूसरे राज्यों और आसपास के जिलों से भी जानकारी मंगाई गई है। जानकारी के मुताबिक स्मार्ट आरसी बनाए जाने के लिए एनआईसी से भी बातचीत हो चुकी है। दरअसल उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश पर शुरू हुई इस कवायद को जल्द ही आखिरी रूप दिया जाएगा।

करीब 200 रुपये होगी कीमत

एआरटीओ आईटी ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जिलों और प्रांतों से सूचनाएं प्राप्त होते ही कमेटी अपनी रिपोर्ट परिवहन आयुक्त को सौंप देगी। रिपोर्ट मिलने के बाद आरसी को आखिरी रूप दिया जाएगा। स्मार्ट आरसी की कीमत करीब 200 रुपये होने की उम्मीद है।

स्मार्ट बनेगी आरसी

वहीं परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने बताया कि धीरे-धीरे पूरी प्रणाली ऑनलाइन होती जा रही है। डीएल समेत दूसरे कागजात भी स्मार्ट कार्ड की तरह हो गए हैं। ऐसे में अब आरसी यानी वाहन के पंजीयन प्रमाणपत्र को भी स्मार्ट बनाने की दिशा में काम शुरू हो गया है। कमेटी गठित कर दी गई है। रिपोर्ट मिलते ही इसे अंतिम रूप दे दिया जाएगा।




Comments