गणतन्त्र दिवस पर ‘चलो दुनिया को स्वर्ग बनायें हम, प्रेम से और प्यार से’ का संदेश देगी सी.एम.एस. की झाँकी

लखनऊ, 21 दिसम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल आगामी गणतन्त्र दिवस, 26 जनवरी 2021 के पावन अवसर पर अपनी अद्भुत झाँकी के माध्यम से सारे विश्व को एकता, शान्ति, सौहार्द, प्यार व विश्व बन्धुत्व की भावना में पिरोकर इस दुनिया को स्वर्ग बनाने की प्रेरणा देगा। ‘चलो दुनिया को स्वर्ग बनायें हम, प्रेम से और प्यार से’ विषय पर आधारित सी.एम.एस. की यह झाँकी भारत की ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ की महान संस्कृति एवं सभ्यता के अनुरूप सम्पूर्ण विश्व मानवता से प्रेम व सद्भाव का संदेश देगी, साथ ही ‘भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51’ की भावनाओं के अनुसार एकता, शान्ति व न्याय पर आधारित विश्व व्यवस्था का आह्वान भी करेगी। उक्त जानकारी सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने दी है। श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. द्वारा तैयारी की जा रही यह झाँकी वर्तमान विश्व समाज की विषमताओं को देखते हुए अत्यन्त ही समीचीन है, जो धरती के प्रत्येक मुनष्य को एकता की डोर से बाँधती है, साथ ही देश की साँस्कृतिक विरासत को सारे विश्व में प्रचारित-प्रवाहित करती है। 

श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. की झाँकी चार भागों में हैं और सभी भाग एक अनूठे ढंग से मानवता के कल्याण का का संदेश दे रहे हैं। इस झाँकी के प्रथम भाग में ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ का संदेश प्रसारित किया जा रहा है जबकि द्वितीय भाग में विभिन्न पूजा स्थलों के माध्यम से यह प्रदर्शित किया गया है कि सभी धर्मों का स्रोत एक ही परमपिता परमात्मा है। इसी छत के नीचे झाँकी गीत ‘‘चलो दुनियाँ को स्वर्ग बनाये हम, प्रेम और प्यार से’’ पर सी.एम.एस. छात्राएं नृत्य प्रस्तुत करेंगी। झाँकी के तृतीय भाग में विश्व संसद के प्रारूप के साथ भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51 की भावना के अनुरूप विश्व एकता की अपील प्रस्तुत की गई है, साथ ही संत कबीर, महात्मा गांधी, विनोबा भावे, मदर टेरेसा एवं धर्म गुरू दलाईलामा की तस्वीरोें के साथ सम्पूर्ण विश्व मानवता से प्रेम करने का संदेश प्रसारित होगा। झाँकी के अंतिम भाग में राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की भव्य प्रतिमा के साथ ही उनका संदेश ‘बुरा मत सुनो, बुरा मत देखो, बुरा मत बोलो’ प्रसारित किया जा रहा है।

श्री शर्मा ने बताया कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी, 2021 को निकाली जाने वाली यह झाँकी सम्पूर्ण विश्वसमाज को समर्पित है और दुनिया को स्वर्ग बनाने के लिए प्रेम और प्यार से रहने के लिए प्रेरित कर रही है। झाँकी से प्रेरणा लेकर यदि एक भी नागरिक या बालक विश्व समाज को शान्ति, सहयोग, सौहार्द तथा एकता के सूत्र में पिरोने का संकल्प लेता है तो हमारा प्रयास सार्थक होगा। श्री शर्मा ने बताया कि झाँकी का निर्माण बड़े जोर-शोर से जारी है एवं आगामी 26 जनवरी को गणतन्त्र दिवस परेड में यह झाँकी सभी के आकर्षण का केन्द्र होगी।



Comments