यहां गोरा बच्चा पैदा होते ही दी जाती है मौत की सजा, गर्भवती महिलाओं को पिलाया जाता है जानवरों का खून

आजकल गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को फल और मेवे खिलाएं जाते हैं ताकि होने वाला बच्चा सुंदर और गोरा पैदा हो। लेकिन क्या आपने सुना है कि दुनिया में एक ऐसी जगह है भी जहा गोरा बच्चा होते ही उसे मौत की सजा दी जाती है। जी हां, यह बात बिल्कुल सच है। हम बात कर रहे हैं जारवा जनजाति के लोगों की जो गोरा बच्चा पैदा होने पर मार देते हैं।

यह जनजाति अंडमान में है जहां इन लोगों का यही मानना है कि अगर बच्चा थोड़ा गोरा होगा तो वह उस प्रजाति के लोगों से अलग होगा, जिससे वह अपने आप को उस समाज से पृथक समझेगा। वहां की यह जनजाति गर्भवती महिलाओं को जानवरों का खुन भी पिलाते है ताकि बच्चे का रंग काला हो। इसी कारण से यहां यह परंपरागत रूप से चल रहा है।

यहां मर्डर के बाद भी नहीं दी जाती सजा इस समुदाय के इलाके में बाहरी लोगों का प्रवेश वर्जित है। यह जनजाति अंडमान ट्रंक रोड के नजदीकी रिहायशी इलाकों में रहते हैं। यहां की एक और परंपरा है कि यदि बच्चे की मां विद्यवा हो जाए या पिता किसी दूसरे समुदाय का हो तो बच्चे को मार दिया जाता है और इसके लिए कोई सजा भी नहीं है।



Comments