महाप्रबन्धक ने की पूर्वोत्तर रेलवे पर चल रहे कार्यों के प्रगति की समीक्षा

 


गोरखपुर 7 जनवरी,2021: पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक श्री विनय कुमार त्रिपाठी ने 7 जनवरी, 2021 को एम.एस.टीम पर आयोजित कार्य समीक्षा बैठक के दौरान पूर्वोत्तर रेलवे पर चल रहे कार्यों के प्रगति की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में अपर महाप्रबन्धक श्री अमित कुमार अग्रवाल, प्रमुख मुख्य परिचालन प्रबन्धक श्री अनिल कुमार सिंह, प्रमुख मुख्य वाणिज्य प्रबन्धक श्री एस.सी.प्रसाद, प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर श्री ए.के.पाण्डेय, मुख्य प्रषासनिक अधिकारी/निर्माण श्री आर.के.यादव, प्रमुख मुख्य इंजीनियर श्री सतीष कुमार पाण्डेय, प्रमुख मुख्य सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर श्री अनिल कुमार मिश्र, प्रधान वित्त सलाहकार सुश्री तनुजा पाण्डेय, प्रमुख मुख्य सुरक्षा आयुक्त/रेलवे सुरक्षा बल श्री अतुल कुमार श्रीवास्तव, मुख्य परियोजना निदेषक/स्टेषन डेवलेपमेंट श्री एस.के.मिश्र, महाप्रबन्धक के सचिव श्री डी.के.खरे, मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री पंकज कुमार सिंह तथा उप महाप्रबन्धक/सामान्य श्री कृष्ण चन्द्र सिंह, मण्डल रेल प्रबन्धक/लखनऊ डा. मोनिका अग्निहोत्री, मण्डल रेल प्रबन्धक/इज्जतनगर श्री आषुतोष पन्त तथा अपर मण्डल रेल प्रबन्धक/वाराणसी श्री प्रवीण कुमार एवं अन्य शाखाधिकारियों ने भाग लिया। 

समीक्षा के दौरान रेल की कार्य प्रणाली में उत्तरोत्तर सुधार हेतु मानव संसाधन विकास के लिये प्रभावी प्रषिक्षणों, कर्मचारी संतुष्टि हेतु कर्मचारी कल्याण के लिये किये जाने वाले विभिन्न कार्यों एवं अन्य चिन्हित कार्यों के महत्व को रेखांकित किया गया। महाप्रबन्धक श्री विनय कुमार त्रिपाठी ने सिगनल एवं दूरसंचार प्रषिक्षण केन्द्र, गोरखपुर, नवस्थापित क्षेत्रीय रेल प्रषिक्षण संस्थान, गाजीपुर, डिवीजनल मल्टी-डिसिप्लनरी टेनिंग इन्स्टीट्यूट, इज्जतनगर सहित पूर्वोत्तर रेलवे के समस्त प्रषिक्षण संस्थानों, छात्रावासों एवं वहाँ उपलब्ध सुविधाओं में विस्तार एवं सुधार हेतु किये जा रहे कार्यों की अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की। 

इसी क्रम में श्री त्रिपाठी ने वाराणसी एवं इज्जतनगर मंडल के अस्पतालों में हास्पिटल इन्फाॅरमेंषन मैनेजमेंट सिस्टम लागू किये जाने हेतु चल रहे कार्यों की समीक्षा करते हुये अनेक व्यवहारिक सुझाव दिये। उन्होंने कहा कि केटल एन ओवर (सी.आर.ओ.) रोकने हेतु ऐसे संवेदनशील खण्डों को चिन्हित कर लें, आवश्यकतानुसार बाउन्ड्री वाल/फेन्सिंग का कार्य किया जाये। 

महाप्रबन्धक ने सम्बन्धित अधिकारियों को कार्य की गति बढ़ाने के साथ ही गुणवत्ता पर भी विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया तथा कार्यों की बेहतर माॅनिटरिंग हेतु वेब पोर्टल आई.आर.पी.एस.एम. को अद्यतन रखने का भी निर्देश दिया।  

बैठक में उपस्थित विभागाध्यक्षों, मण्डल रेल प्रबन्धकों एवं वरिष्ठ रेल अधिकारियों ने महाप्रबन्धक श्री त्रिपाठी के सुझावों को अत्यन्त व्यवहारिक बताते हुये इसका पूर्ण रूप से क्रियान्वयन करने का आश्वासन दिया। 


                                                             

Comments