PM Kisan Yojana : अब 7 वीं किस्त का पैसा किसानों के खाते में आना शुरू हो जाएगा, क्या आपने यह काम पूरा किया है?


पी
एम किसान सम्मान निधि योजना : पीएम किसान सम्मान निधि योजना (पीएम किसान सम्मान निधि योजना) के तहत पंजीकृत किसानों के लिए अच्छी खबर है। केंद्र की पीएम मोदी सरकार एक बार फिर पीएम किसान योजना (पीएम किसान योजना) की 7 वीं किस्त का पैसा किसानों के खातों में डाल रही है। किसानों के खातों में 7 वीं किस्त के 2000 रुपये 1 दिसंबर, 2020 से आने शुरू हो जाएंगे। इसका मतलब है कि मंगलवार से देश भर के किसानों के खातों में 2000 रुपये भेजे जाएंगे। इसलिए, योजना में आने से पहले किसानों को अपने रिकॉर्ड की जांच करना महत्वपूर्ण है। ऐसा नहीं होना चाहिए कि दस्तावेजों में गड़बड़ी के कारण परेशानी उठानी पड़े। पीएम किसान सम्मान निधि योजना से जुड़ी हर ताजा खबर से जुड़े रहने के लिए हमारे साथ बने रहें।

सरकार एक साल में तीन किस्त देती है

बता दें कि पीएम किसान योजना के तहत सालाना तीन किस्तों में 6000 रुपये दिए जाते हैं। अब तक 6 किस्त किसानों को भेजी जा चुकी हैं। पिछले 23 महीनों में, केंद्र सरकार ने 11.17 करोड़ किसानों को सीधे 95 करोड़ रुपये से अधिक की मदद दी है। पीएम किसान सम्मान योजना में, केंद्र सरकार इस पैसे को तीन किस्तों में स्थानांतरित करती है। पहली किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च के बीच आती है, जबकि दूसरी किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई के बीच किसानों के खाते में और तीसरी किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच भेजी जाती है।

दस्तावेज सही होने पर लाभ दिया जाएगा

यह भी कहा जा रहा है कि यदि सभी कागजात ठीक हैं, तो सभी 11.17 करोड़ पंजीकृत किसानों को भी 7 वीं किस्त का लाभ मिलेगा। इसलिए अपने रिकॉर्ड की जांच करें, ताकि पैसे मिलने में कोई दिक्कत न हो। रिकॉर्ड में कोई खामी होने पर आपको निश्चित रूप से योजना का लाभ नहीं मिलेगा। कृषि मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, 1.3 करोड़ किसानों को आवेदन करने के बाद भी पैसा नहीं मिल सका, क्योंकि या तो उनके रिकॉर्ड में कोई खामी थी या कोई आधार कार्ड नहीं था। नाम में स्पेलिंग की वजह से भी पैसा रोका जा सकता है।

कैसे रिकॉर्ड की जांच

आपको अपना रिकॉर्ड जांचने के लिए पीएम किसान सम्मान निधि योजना (pmkisan.gov.in) की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग इन करना होगा। इसमें आपको फार्मर्स कॉर्नर वाले टैब में क्लिक करना होगा।

यदि आपने पहले आवेदन किया है और आपका आधार ठीक से अपलोड नहीं किया गया है या किसी कारणवश आधार नंबर गलत तरीके से दर्ज किया गया है, तो इसकी जानकारी इसमें मिल जाएगी।

किसान कॉर्नर में, किसानों को पीएम किसान योजना के तहत खुद को पंजीकृत करने का विकल्प भी दिया गया है।

इसमें सरकार ने सभी लाभार्थियों की पूरी सूची अपलोड की है। आपके आवेदन की स्थिति क्या है। किसान आधार नंबर / बैंक खाते / मोबाइल नंबर के माध्यम से इस बारे में जान सकते हैं।

जिन किसानों को सरकार द्वारा इस योजना का लाभ दिया गया है, उनके नाम राज्य / जिलेवार / तहसील / गाँव के अनुसार भी देखे जा सकते हैं।

किसानों को पहली बार पंजीकरण कैसे करना चाहिए

यदि आपने अभी तक पीएम किसान सम्मान निधि प्राप्त करने के लिए पंजीकरण नहीं कराया है, तो आप अपना पंजीकरण कराने के बाद योजना का लाभ उठा सकते हैं। सबसे पहले आपको इस योजना से जुड़ी आधिकारिक साइट पर जाना होगा। जिसमें किसान कॉर्नर का विकल्प दिखाई देगा। न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन कॉलम पर क्लिक करें।

इसके बाद आपके सामने एक नई विंडो खुलेगी, जिसमें आपको आधार कार्ड की डिटेल भरनी होगी। फिर आपको आचरण करने के लिए यहां क्लिक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद, आपके सामने एक और पेज खुलेगा, जिसमें अगर आपने पहले पंजीकरण करवाया है, तो आपका विवरण आएगा और यदि आप पहली बार पंजीकरण कर रहे हैं, तो यह लिखा जाएगा कि रिकॉर्ड न होने के साथ रिकॉर्ड करें, क्या आप चाहते हैं PM -KISAN पोर्टल पर पंजीकरण करें आपको इस पर हाँ करना होगा।

इसके बाद फॉर्म दिखाई देगा जिसे भरना होगा। इसमें सही जानकारी भरने के बाद इसे सेव करें। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपसे आपकी जमीन का विवरण पूछा जाएगा। विशेष रूप से खसरा नंबर और खाता संख्या आदि का विवरण भरें और इसे सहेजें। आपके द्वारा सहेजते ही पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। आपको एक पंजीकरण संख्या और एक संदर्भ संख्या मिलेगी जिसे आप संभाल सकते हैं। इसके बाद पैसा आना शुरू हो जाएगा।



Comments