खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों में प्रशिक्षित कर लोगों को दिया जा रहा है रोजगार

 


खाद्य प्रसंस्करण जागरूकता शिविर भी हो रहे हैं, आयोजित

लखनऊ: 20 दिसंबर 2020। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य के कुशल दिशा निर्देशन में खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को बढ़ावा देने तथा इस क्षेत्र में लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। वर्तमान सरकार के कार्यकाल में खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में अनेक उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की गई  हैं। 

उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को प्रशिक्षित एवं कुशल मानव संसाधन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से राजकीय खाद्य प्रसंस्करण प्रौद्योगिकी संस्थान लखनऊ में संचालित एमएससी (फूड साइंस एंड टेक्नोलॉजी) पाठ्यक्रम की सीटों की संख्या 30 से बढ़ाकर 40 की गई तथा संस्थान में 3 वर्ष मे 81 अभ्यर्थियों द्वारा  प्रवेश लिया गया ।इस संस्थान से पास आउट हुए छात्रों में से दो को सरकारी, 3 को अर्ध सरकारी नौकरी, 40 को निजी  खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों में सेवायोजित हुए और 5 छात्रों ने निजी क्षेत्र में  इकाई की स्थापना की तथा शेष छात्रों को रोजगार  उपलब्ध  कराने के प्रयास किये जा रहे हैं। 

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा नमामि गंगे मिशन को आर्थिक मॉडल प्रदान करते हुए "अर्थ गंगा" के रूप में विकसित करने के उद्देश्य से गंगा बेसिन के 11 मंडलों के 27 जनपदों में उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा महात्मा गांधी खाद्य प्रसंस्करण ग्राम स्वरोजगार योजना के अंतर्गत तीन दिवसीय खाद्य प्रसंस्करण जागरूकता शिविरों का आयोजन किया गया।

बी एल यादव 

सूचना अधिकारी



Comments