उप खनिजों के नए खनन क्षेत्रों का चिन्हाकन कर डी०एस०आर० में सम्मिलित करने हेतु प्रस्ताव उपलब्ध कराए जाएं : डॉ० रोशन जैकब

 


लखनऊः 29 दिसंबर 2020। निदेशक, भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग उत्तर प्रदेश, डॉ० रोशन जैकब ने प्रदेश के समस्त जिलाधिकारियों से अपेक्षा की है कि वह उप खनिजों के नए खनन क्षेत्रों का चिन्हांकन कर डी०एस०आर० में सम्मिलित करने हेतु प्रस्ताव/संशोधन 15 जनवरी 2021तक अनिवार्य रूप से खनन निदेशालय को भेजना सुनिश्चित करें ।उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को जारी परिपत्र में कहा है कि नए रिक्त क्षेत्रों का सर्वेक्षण/चिन्हांकन  राजस्व विभाग एवं खनिज विभाग द्वारा संयुक्त रूप से कराया जाए ।

नए क्षेत्रों का गठन संबंधित उप जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा कराया जाए। इस समिति के अध्यक्ष संबंधित उप जिलाधिकारी होंगे तथा संबंधित प्रभागीय वनाधिकारी अथवा उनके द्वारा नामित प्रतिनिधि,  संबंधित अधिशासी अभियंता सिंचाई एवं जल संसाधन अथवा उनके द्वारा नामित प्रतिनिधि, क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, सदस्य होंगे तथा जनपदीय ज्येष्ठ खान अधिकारी/ खान अधिकारी/ खान निरीक्षक सदस्य- सचिव होंगे।

डॉ0 रोशन जैकब ने जारी परिपत्र में कहा है कि अधिकांश खनन क्षेत्रों का व्यवस्थापन जिलों में हो चुका होगा या प्रक्रिया अंतर्गत होगा ,परंतु सर्वेक्षण कर ऐसे नए क्षेत्रों को चिन्हित किए जाने की आवश्यकता है, जो डी0एस0आर0 में सम्मिलित नहीं है, जिससे कि जिले में कोई खनन क्षेत्र रिक्त न रह पाए तथा खनिज की उपलब्धता के साथ ही संभावित अवैध खनन को रोका जा सके।

बी एल यादव 

सूचना अधिकारी



Comments