सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस द्वारा आयोजित इण्टरनेशनल मैथ्स एण्ड फिजिक्स ओलम्पियाड का भव्य समापन

 

लखनऊ, 22 दिसम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, आर.डी.एस.ओ. कैम्पस द्वारा आयोजित इण्टरनेशनल मैथ्स एण्ड फिजिक्स ओलम्पियाड ‘मैथफी’ का आज आनलाइन भव्य समापन हुआ। मुख्य अतिथि श्रीमती संयुक्ता भाटिया, मेयर, लखनऊ ने समापन समारोह का वर्चुअल उद्घाटन किया। रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रस्तुतिकरण के बीच सम्पन्न हुए पुरस्कार वितरण व समापन समारोह में 8 देशों मलेशिया, वियतनाम, फिलीपीन्स, बांग्लादेश, कतर, बुल्गारिया, कजाकिस्तान एवं भारत के विभिन्न राज्यों के विजयी छात्रों को सम्मानित किया गया।  विदित हो कि छात्रों की तार्किक और बौद्धिक क्षमता का विकास एवं वैश्विक परिदृश्य में गणित व विज्ञान के बढ़ते महत्व को देखते हुए इस अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पियाड का आयोजन किया गया, जिसमें अन्तर्गत की-स्टेज-1 (प्राइमरी वर्ग), की-स्टेज-2 (जूनियर वर्ग) एवं की-स्टेज-3 (सीनियर वर्ग) की प्रतियोगिताओं में देश-विदेश के छात्रों ने अपने ज्ञान-विज्ञान का जोरदार परचम लहराया। ओलम्पियाड में भारत समेत 8 देशों के छात्रों ने आनलाइन प्रतिभाग किया।


ओलम्पियाड में अन्तर्गत आयोजित की-स्टेज-1 (प्राइमरी वर्ग) की प्रतियोगिताओं में जिंगल इट लाउड (जिंगल) प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. अलीगंज (प्रथम कैम्पस) के कृष्ण दुबे ने जीता जबकि हरान्गुवे (भाषण प्रतियोगिता) का प्रथम पुरस्कार डेलही पब्लिक स्कूल, जालंधर के वेदांश राजपूत ने जीता। की-स्टेज-2 (जूनियर वर्ग) के अन्तर्गत एक्प्रेशन्स (पोस्टर मेकिंग) प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की प्रीति मुखर्जी को, मैथ ट्रिक्स प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार डाय किम सेकेण्डरी स्कूल, वियतनाम के नागेन्ह डयू एन्ह को, फिजी ट्रिक्स प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार आय मो सेकेण्डरी स्कूल, वियतनाम के नागेन्ह हाँग फुक को मिला। इसी प्रकार, की-स्टेज-3 (सीनियर वर्ग) के अन्तर्गत पैनोरमा (वर्किंग माॅडल) प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सेंट माक्र्स सीनियर सेकेण्डरी स्कूल, नई दिल्ली की अंचिता भूटानी को, मैथ ट्रिक्स प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) के नमन मिश्रा को एवं फिजी ट्रिक्स प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार हाई स्कूल आॅफ मैथमेटिक्स एण्ड नेचुरल साइन्सेज, बुल्गारिया के जार्जी के. कोस्टाडिनाॅय को मिला।


पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह में अपने उद्गार व्यक्त करते हुए मुख्य अतिथि श्रीमती संयुक्ता भाटिया, मेयर, लखनऊ ने कहा कि विभिन्न देशों के बाल गणितज्ञों को एक मंच पर प्रतिभा प्रदर्शन का अवसर प्रदान करना वास्तव में अत्यन्त सराहनीय है। उन्होंने बाल गणितज्ञों से अपील की कि अपनी बुद्धि और ज्ञान की शक्ति को विधाता की देन समझें और इसे विश्व समाज की सेवा में लगायें जिससे मानव जाति निरन्तर प्रगति की ओर अग्रसर रहे। इससे पहले, पुरस्कार वितरण समारोह में देश-विदेश की प्रतिभागी छात्र टीमों के सम्मान में रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों का प्रस्तुतिकरण किया गया।


इस अवसर पर सी.एम.एस. के संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने देश-विदेश के बाल गणितज्ञों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि सी.एम.एस. का प्रयास है कि भावी पीढ़ी में वैज्ञानिक सोच और विश्व बन्धुत्व की भावना का विकास हो। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की कि विभिन्न देशों के बच्चे आपस में मिलकर ‘विश्व एक परिवार’ की बात सोच रहे हैं। सी.एम.एस. के चीफ एक्जीक्यूटिव आफीसर श्री रोशन गाँधी ने भी इस अवसर पर विजयी छात्रों को बधाई दी। 


ओलम्पियाड की संयोजिका एवं सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती ज्योत्सना अतुल ने कहा कि सम्मेलन में प्रतिभाग करने वाले सभी छात्र सभी विजयी हैं क्योंकि सभी ने इस ओलम्पियाड में प्रतिभाग कर कुछ नया सीखा है और आगे की इनकी मंजिल नई ऊचाइयों को छूने के लिए इनको पुकार रही है। 



 

Comments